Headlines

प्रवासी भारतियों ने धूम धाम से मनाया स्वतंत्रता दिवस, विदेशी मेहमान भी हुए शामिल

प्रवासी भारतियों ने धूम धाम से मनाया स्वतंत्रता दिवस, विदेशी मेहमान भी हुए शामिल
सऊदी (रियाद)-
 सऊदी अरब में रह रहे प्रवासी भारतियों ने स्वतंत्रता दिवस के शुभ अवसर पर एक शाम शहीदों के नाम कार्यक्रम का आयोजन कर भारतीयता , स्वतंत्रता ,और एकजुटता का त्यौहार धूमधाम  से मनाया , सऊदी अरब की राजधानी रियाद के किंग खालिद इंटरनेशनल एयरपोर्ट के सिंगल कैंप में भव्य आयोजन किया गया, कार्यक्रम का शुभारम्भ नेशनल एंथम से किया गया , जब नेशनल एंथम गाया जा रहा था तो भारतियों के साथ साथ विदेशी मेहमान भी नेशनल एंथम के सम्मान में खड़े थे।
सभा को सम्बोधित करते हुए इस्लाम के जानकार अब्दुल अलीम ने कहा के इस्लाम अपने मुल्क से प्रेम करना सिखाता है और हमसब को अपने देश की रच्छा सुरछा के लिए अगर  जान देने की भी ज़रुरत पड़े तो हमेशा तैयार रहना चाहिए।  रंगारंग कार्यक्रम पेश करते हुए तफ़्सीर  ने हर करम अपना करेंगे ए वतन तेरे लिए , शकील सरदार ने , ए मेरे वतन के लोगों , आमिर पटेल ने , ऐसा देश है मेरा ,तालिब ने इंसाफ के डगर पे बच्चों दिखाओं चल के ,अताउल्लाह ने , कैसे प्रदेश न जाऊ , कामिल ,सत्तर , सलीम ,शरीक ,शकील ,मनीष, गोलू शर्मा ने , सरे जहाँ से अच्छा हिंदुसतान हमारा वहीँ ज़ुबैर अहमद ने अपने शायराना अंदाज़ में अशआर पढ़ कर लोगों का दिल जीत लिया और दर्शकों ने खूब आनंद उठाया। इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि लेबनान  निवासी सुलेमान अल्हामोई ने अपने भाषण में बताया के मुझे भारत से बेहद प्यार और लगाव है जब मै विद्यार्थी था और अमेरिका के टेक्सस यूनिवर्सिटी में पढता था तो मेरे चार प्रोफेसर भारतीय थे और डीन भी हिंदुस्तानी थे मै उनलोगों के काफी क़रीब था उनसे ही मैंने म्यूजिक मैनेजमेंट और सभ्यता का ज्ञान प्राप्त किया है , वहीँ विशिष्ट अतिथि के रूप में स्कॉटलैंड के जॉन ग्लास्स्फोड ने अपने सम्बोधन में भारतियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई दी एवं भारत को ए कंट्री ऑफ़ कल्चर्स बताया , जॉन ग्लास्स्फोड ने भारत को दुनिया का एक मज़बूत देश बताया और अनेकताओं में एकता के लिए जाने जाना वाला देश बताया समारोह का सबसे खास बात  ये रहा के इसमें  हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई सभी धर्मों के लोग शामिल हुए और देश से काफी दूर रह कर एकता का एक अनोखा मिसाल पेश किया
समारोह की अध्यछता आफताब आलम कर रहे थे जबकि मंच संचालन का कार्य शेरघाटी के शौकत अली ने किया। समारोह के अंत में सभी भारतियों ने अपने देश की रच्छा करने का संकल्प लिया , समारोह में शामिल होने वालों में भारतियों के इलावा स्कॉटलैंड , लेबनान , श्रीलंका , पाकिस्तान बांग्लादेश आदि देशों के लोग भी शामिल हुए। इस समारोह को सफल बनाने में गोलू शर्मा, आफताब आलम , मनीष धवन ,सलीम खान ,विशाल भारदवाज ,कामिल अहमद ,राजू ,शरीक खान, तिरलोक सरदार ,अरशद इमाम ,मधु आनंद ,अब्दुल अलीम , अताउल्लाह ,तफ़्सीरुजमान ,शकील सरदार , ज़ुबैर अहमद अश्गफक अहमद , शाहब हुसैन सरफरास आलम आदि मुख्य रूप से सक्रिय थे
सऊदी (रियाद)
शौकत अली