Headlines

निष्काम प्रेम और भक्ति का मार्ग ही प्रभु को पाने का है उत्तम मार्ग: कौदण्ड

निष्काम प्रेम और भक्ति का मार्ग ही प्रभु को पाने का है उत्तम मार्ग: कौदण्ड

सहारनपुर। वन्देमातरम मिशन एक चिंगारी ट्रस्ट संस्थापक़ विजयकान्त चैहान भगतसिंह जूनिय हर के संचालन ओर सयोजन में श्री श्री गौदेवी मन्दिर गौशाला नुमाइश कैम्प में चल रही श्री नद भागवत कथा के 6 छटे दिन आज व्यास पीठ पर विराजमान श्रधेय पण्डित अनिल कृष्ण कौदण्ड ने भक्तो को सम्बोधित करते हुते कहा कि भक्ति में प्रभु से मांग नही होनी चाहिए निष्काम भक्ति से ही श्री कृष्ण बहुत जल्दी रीझते है थोड़ी सी भक्ति के बदले प्रभु से मांग रख दे ये सही नही है आप सुदामा को देखिए कुछ भी नही मांगा कृष्ण से फिर भी भगवान श्री कृष्ण ने सब कुछ दे दिया मांगने से भक्ति को निम्न न बनाओ प्रभु भक्त को बिन मांगे सब कुछ देते है। कौदण्ड ने भक्तो से कहा कि श्री कृष्ण ने अपना अंतिम उपदेश श्री उद्धव जी को देते हुए कहते है कि प्रेम और भक्ति मार्ग से जीव मुझ तक पहुंच जाते है यही मार्ग सरल है सबसे प्रेम करो प्रभु की भक्ति निष्काम भाव से करो। व्यास पीठ के सम्मान में परम पूज्य संत पूज्य सुभाष बापू जी महाराज जी ने देशभक्ति गीत माये मेरा रंग दे बसंती चैला गीत पर पूरे गौशाला पंडाल को देशप्रेम की भक्ति में झूमने पर उत्साहित ओर आनंदित कर दिया भक्त राधा रमन दास ने नी मैं नचना श्याम दे नाल आज मेनू नाच लेन दे एवम विठल विठल माजा माजा भजन पर भक्तो को भक्ति रस में डुबो दिया। कार्यक्रम कृष्ण सुदामा की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। वन्देमातरम मिशन एक चिंगारी ट्रस्ट संस्थापक़ विजयकान्त चैहान द्वारा आज पूज्य सुभाष बापू जी महाराज एवम भजत राधा रमन दास पूनम सिंह पुण्डीर एडवोकेट को पगड़ी पटका माला पहनाकर तिलक लगाकर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया और अंत मे कार्यक्रम में सहयोगी समाज सेवी गगन गुम्बर, पुनीत चैहान, सुभष शर्मा, सुरेश वर्मा, ओमप्रकाश, गुलशन भंडारी, महेश नारंग, चन्द्रशेखर टक्कर, महेश पाहवा, बालेश्वर कुमार, प्रभा कुमारी, सचिन गुम्बर, आचार्य पण्डित धर्मेंद्र, अजय कुमार, रवि कुमार, महेंद्र लाला, बिट्टू वर्मा, भरत कुमार पण्डित रजनीश को भी पगड़ी माला पटका पहनाकर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में सयम गुम्बर, तन्नू गुम्बर, राधेश्याम, विनोद, आशीष, दलीप शर्मा, लवी, पूनम खुराना, अनिता खुराना, सतीश कुमार, सशील मलिक, मोहित आदि सेकड़ो भक्तो ने पूजा आर्टिनके साथ गौसेवा का संकल्प लिया।