Headlines

राष्ट्रपति कड़ाके की ठंड के बावजूद राजगीर पधारे नालंदा अन्तर्राष्ट्रीय विश्विद्यालय ए पी जे कलाम के सपनों की व्याख्या :नीतीश

राष्ट्रपति कड़ाके की ठंड के बावजूद राजगीर पधारे  नालंदा अन्तर्राष्ट्रीय विश्विद्यालय ए पी जे कलाम के सपनों की व्याख्या :नीतीश

अशरफ अस्थानवी

हांड कांपने वाली कड़ाके की ठंड के बावजूद देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बिहार के सेनिटोरियम राजगीर में आयोजित तीन दिवसीय  अन्तर्राष्ट्रीय धम्म सम्मलेन में भाग लिया तथा सम्मलेन का उद्घाटन भी किया सम्मलेन में बौध के 11 देशों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं  ने  राष्ट्रपति ने कहा कि नालंदा की अपनी अंतरराष्ट्रीय पहचान है। यहां का इतिहास काफी प्राचीन है। गौतम बुद्ध के समय में यह क्षेत्र मगध के नाम से जाना जाता था। उस समय पाली भाषा का प्रचलन था। राष्टपति ने कहा कि राजगीर आकर वे काफी खुश हैं। इस सम्मेलन में 11 देशों के डेलीगेट्स आये हैं। यह बहुत ही सराहनीय है। खासकर सम्मेलन के लिए जो समय निर्धारित किया है वह काफी अच्छा है।

सीएम नीतीश कुमार ने आयोजनकर्ताओं को धन्यवाद दिया।उन्होंने अतर्राष्ट्रीय नालंदा विश्वविद्यालय को प्राचीन बताते हुए कहा कि विलुप्त हो चुके प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के गरिमा के अतीत की पुनः वापसी करने हेतु भूतपूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के भग्वनावशेष को विश्व धरोहर में शामिल करने हेतु बिहार सरकार ने प्रयास किया। उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द नालंदा विश्विद्यालय अपने भवन में जाये और उसका अपना कैम्पस हो।आरकलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया किसी की नही सुनता।नीतीश कुमार बिहार में कई जगहों पर इतिहास के अवशेष पड़े हुए हैं। आरकलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया यदि खुदाई नही कर सकती तो हमे करने। सरकार हर तहर के मदद के लिए तैयार है।अंतर्राष्ट्रीय नालंदा विश्वविद्यालय के कुलपति से कहा कि पुरातात्विक महत्व से लबरेज पूरे राजगीर को विश्व धरोहर में शामिल कर लिया जाये इस अवसर पर बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक नालंदा अन्तर्राष्ट्रीय विश्वविद्याल की कुलपति सुनैना सिंह थाईलैंड और श्रीलंका के विदेश मंत्री सहित 11 बौध देशों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं

इस से पहले राष्ट्रपति भारती वायु सेना के विशेष विमान से 1 बजे गया एयरपोर्ट पहुंचे जहाँ राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने उनका स्वागत किया फिर वो विशेष हेलीकाप्टर से राजगीर पधारे जहाँ से शाम 5 बजे दिल्ली के लिए रवाना हो गए