Headlines

जोकीहाट विधान सभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, तमाम लोगों के भविष्य ई वी एम में बंद,  राजग और राजद की परतिष्ठा दाव पर 

जोकीहाट विधान सभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, तमाम लोगों के भविष्य ई वी एम में बंद,  राजग और राजद की परतिष्ठा दाव पर 
अशरफ अस्थानवी
जोकिहाट विधान सभा उप चुनाव आज शांतिपूर्ण संपन्न हो गया. 55 प्रतिशत लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया. इस चुनाव को जद (यू) व राजद के लिए प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा है. जेडीयू प्रत्याशी के लिये सीएम नीतीश कुमार ने भी जमकर प्रचार किया है और आरजेजी नेता तेजस्वी यादव भी मैदान में थे. जेडीयू प्रत्याशी मुर्शीद आलम के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. जो नीतीश के ‘मिस्टर क्लीन’ की छवि से मेल नहीं खाते हैं. नीतीश कुमार इस मुद्दे से जुड़े सवाल को टालते भी नजर आए हैं. वहीं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सांप्रदायिकता का मुद्दा बनाया है. ये विधानसभा क्षेत्र मुस्लिम बहुल इलाका है और दोनों ही नेता मुस्लिमों के बीच खुद को बड़ा नेता स्थापित करने की होड़ में हैं
जदयू के कद्द्वार राजनेता कई दिनों से क्षेत्र में कैंप कर लोगों को जदयू प्रतयाशी को कामयाब बनाने के लिए जी तोड़ कोशिश करते रहे, तमाम प्रतियाशियों का  भविष्य ई वी एम में कैद हो चूका है, परिणाम आगामी  31 मई को घोषित होगा ये चुनाव आगामी लोकसभा चुनाव की दिशा भी तय करेगा

विदित होकि यह सीट जदयू की परम्परागत सीट रही है और यहाँ से लगातार 2005 से सरफ़राज़ आलम जदयू की टिकट पर कामयाब होते रहें हैं लेकिन उन्होंने जदयू की प्राथमिक सदस्यस्ता तथा विधान सभा से तयाग कर आरजेडी की टिकट पर अररिया लोक सभा क्षेत्र से निर्वाचित हुए हैं … जोकिहाट विधानसभा सीट से विधायक सरफराज आलम हाल ही में अर​रिया संसदीय क्षेत्र से सांसद चुने गये हैं। इस कारण विधानसभा सीट रिक्त हो गयी है
जदयू की टिकट पर 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में जोकिहाट विधानसभा सीट से विजयी हुए सरफराज अपने पिता और अररिया से राजद सांसद मोहम्मद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद संसदीय सीट से चुनाव लड़ने के लिए राजद में शामिल हो गए थे
जोकिहाट उपचुनाव में सरफराज के भाई शाहनवाज आलम राजद की टिकट पर महागठबंधन के उम्मीदवार के तौर तथा जदयू के मोहम्मद मुर्शिद आलम राजग के प्रत्याशी के तौर पर अपना—अपना भाग्य आजमा रहे हैं।
शाहनवाज और मुर्शिद आलम के अलावा मधेपुरा से राजद से निष्कासित सांसद पप्पू यादव की पाटी जन-अधिकार पार्टी के उम्मीदवार गौसुल आजम सहित कुल 9 प्रत्याशी हैं। आज हो रहे उपचुनाव के लिए वोटों की गिनती 31 मई को होगी। और उसी रोज़ फैसला हो जायेगा की इस क्षेत्र पर स्वर्गीय तस्लीमुद्दीन का परभाव है या नहीं .