Headlines

भोपाल के लखेरापुरा में  80 साल पुराना मकान गिरा, 7 साल से सिर्फ नोटिस थमा रहा था नगर निगम

भोपाल के लखेरापुरा में  80 साल पुराना मकान गिरा, 7 साल से सिर्फ नोटिस थमा रहा था नगर निगम

  भोपाल( उबैद कुरैशी:- स्टार न्यूज़ टुडे) 11 जून

राजधानी भोपाल के  लखेरापुरा बाजार  का 80 साल पुराना दो मंजिला मकान शनिवार शाम करीब पांच बजे बारिश के दौरान  गिर गया। भोपाल में ऐसे पुराने बहुत सारे मकान है  अभी तो बारिश की शुरुआत भी नहीं हुई इससे पहले हादसा हो गया। हादसे के वक्त घर में पति-पत्नी समेत परिवार के चार लोग मौजूद थे। गनीमत यह रही कि कोई घायल नहीं हुआ। मकान में फंसे लोगों को नगर निगम, पुलिस और स्थानीय रहवासियों ने सीढ़ियां लगाकर बाहर निकाला। घर के सामने खड़े आधा दर्जन दोपहिया वाहन दबकर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। इस जर्जर मकान को नगर निगम 2012 से लगातार नोटिस दे रहा था। लेकिन, इसे तोड़ने की कार्रवाई नहीं की गई। लखेरापुरा में अनिकेष गुप्ता अपने परिवार के साथ रहते हैं। जिस मकान में वे रहते हैं वह करीब 80 साल पुराना है। कभी इस मकान में उनके साथ दो अन्य परिवार भी रहते थे। 1989 में एक परिवार छोड़कर गया था। जबकि, 2012 में मकान का एक हिस्सा गिरा तो एक आैर परिवार यहां से दूसरी जगह रहने चला गया था। बावजूद इसके अनिकेष अपने परिवार के साथ यहीं रह रहे थे। नगर निगम पिछले सात साल से मकान जर्जर होने पर नोटिस तो जारी कर रहा था, लेकिन इसे तोड़ने की कार्रवाई नहीं की गई। अनिकेष ने बताया कि वे पत्नी और बच्चों के साथ घर में ही थे। शाम के वक्त अचानक मकान के आगे का हिस्सा गिर गया। नगर निगम और पुलिस ने सीढ़ियां लगाकर हम लोगों को बाहर निकाला।

 जर्जर हिस्सा तोड़कर हटाया मलबा
हादसे की सूचना पाकर पुलिस और नगर निगम का अमला मौके पर पहुंचा। पहले यहां जमा हुई भीड़ को पुलिस ने हटाया। निगम अमले ने घर के कीमती सामान को बाहर निकालने के बाद मकान के जर्जर हिस्से को गिराया। सड़क पर आए मलबे को हटाने की कार्रवाई देर रात तक जारी थी। अब देखना ये है की नगर निगम भोपाल में  बरसो पुराने जर्जर मकानों को बारिश से पहले तोड़ने की कार्यवाही करता है या नहीं।