Headlines

छात्रावास का पता नही, पांच माह पहले से वार्डेन  बहाल

छात्रावास का पता नही, पांच माह पहले से वार्डेन  बहाल
सीतामढ़ी मो. सदरे आलम नोमानी
जिला के परीहार श्रीगांधी उच्च विद्यालय, में बालिका छात्रावास का संचालन करना है, लेकिन कुछ कारणों से अबतक छात्रावास चालू नही हो सका है. वहीं, पांच माह पूर्व वार्डेन की बहाली कर दी गयी. वार्डेन संजीदा ख़ातून मूल रूप से परिहार प्रखंड के मवि, उर्दू परसा की शिक्षिका है. वार्डेन के रूप में बहाली के बाद से उसे वेतन नही मिल सका है. न तो मूल विद्यालय से वेतन मिल पा रहा है और न ही जहां वार्डेन है, उस विद्यालय के प्रधान शिक्षक अनुपस्थिति विवरणी भेज रहे है, ताकि उसका वेतन भुगतान हो सके। बताया गया है कि 24 मई को ही संजीदा ख़ातून को वार्डेन बनाया गया था. जानकारों का कहना है कि हाइस्कूल के प्रधान शिक्षक के स्तर से निर्गत  अनुपस्थिति विवरणी के आधार पर ही वेतन भुगतान संभव है, लेकिन प्रधान शिक्षक अता करीम का कहना है कि वार्डेन को मूल विद्यालय से वेतन मिलता होगा. जब वह उनके विद्यालय से अनुपस्थित रहेगी, तब वे विभाग को लिखेंगे. वह जब तक नही लिखेंगे, तबतक विभाग यह मानेगा कि वार्डेन हाइस्कूल में नियमित है और उसका वेतन भुगतान होता रहेगा. बताया कि अभी छात्रावास चालू नही हुआ है. वार्डेन नियमित आती है और काम भी करती है. इधर, प्रधान शिक्षक श्री करीम के हस्ताक्षर से संजीदा से संबंधित निर्गत अनुपस्थिति विवरणी प्रभात खबर को हाथ लगी है, जिसमें यह लिखा हुआ है कि संजीदा 24 मई 18 से 25 अगस्त 18 तक बतौर वार्डेन कार्यरत रही है. यह बात अलग है कि इस तरह के किसी पत्र से प्रधान ने इंकार किया है.